नई दिल्लीःमध्य प्रदेश के इदौर में 10वीं की छात्रा ने छेड़छाड़ और ब्लैकमेलिंग से तंग आकर खुदकुशी कर ली.दरअसल एक युवक ने छात्रा के कुछ  फोटोज फेसबुक पर अपलोड  कर दिए थे.फेसबुक पर इस तरह से फोटोज अपलोड करने और छेड़छाड़ से तंग आकर छात्रा अपनी शिकायत लेकर इंदौर के द्वारकापुरी थाने गई लेकिन उसे  देखते हैं कह कर टाल दिया जाता.वहीं शिकायत की खबर आरोपी युवक को मिली तो वह  छात्रा को अपहरण की धमकी देने लगा.जिसके बाद छात्रा अपने पिता के साथ थाने पहुंची, लेकिन फिर भी कोई कार्यवाई नहीं की गई.आखिरकार छेड़छाड़ ब्लैकमेलिंग और पुलिस के गैर-जिम्मेदाराना रवैये से परेशान होकर छात्रा ने मौत को गले लगा लिया. खुदकुशी से पहले छात्रा ने एक अपने पिता के नाम एक सुसाइड नोट भी लिखा है.जिसमें छात्रा ने पिता से अपनी इमेज खराब होने को लेकर आत्महत्या की बात लिखी है.

छात्रा के साथ काफी समय से छेड़छाड़ कर रहा था युवक
वहीं छात्रा के खुदकुशी करने के बाद छात्रा के परिवार में काफी गुस्सा है.छात्रा की मौत के बाद परिजनों ने थाने का घेराव करते हुए खूब हंगामा किया.इसी दौरान मृतक छात्रा के परिजनों और पुलिस में झड़प भी हो गई. दरअसल, मृतक छात्रा को उसी की कॉलोनी मं रहने वाला एक युवक मिलन चौहान काफी समय से परेशान कर रहा था.वह आए दिन छात्रा का पीछा करता था और उसके साथ छेडछाड की कोशिश करता था.जब छात्रा ने इस बारे में अपने परिवार से बात की तो वह युवक को समझाने गए लेकिन युवक के परिवार वाले छात्रा के परिवार को तेजाब की धमकी देने लगे.

छात्रा की मौत के बाद आरोपी गिरफ्तार
आरोपी युवक की मां ने छात्रा के परिजनों से धमकी देते हुए कहा कि चाहे जितनी कोशिश कर लो. पुलिस कुछ नहीं करेगी. क्योंकि पुलिस को समय-समय पर पैसा जाता रहता है. पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवा दिया है. वहीं पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और लापरवाही बरतने वाले एसआई ओंकार कुशवाहा निलंबित कर दिया है.

छात्रा का सुसाइड नोट.
नाबालिग छात्रा ने सुसाइड नोट में लिखा है ''पापा सॉरी मेरी कोई गलती नहीं थी.वह मुझे आए दिन ब्लैकमेल करता है और उसने मेरी फोटो Facebook पर भी अपलोड कर दी थी.उसकी वजह से मेरी इमेज हर जगह खराब हो गई.उसने मुझसे जबरदस्ती दो लेटर भी लिखवाए आपके बारे में और मुझे उस स्कूल के टाइम पर परेशान भी करता है और जबरदस्ती बात करने का बोलता है.मैं उससे बहुत परेशान हूं. आपको पता है उसकी मम्मी कितनी खराब है और मैं नहीं चाहती कि मेरी वजह से आपकी इमेज खराब हो.मैं स्कूल से आ रही थी तो सब लोगों बोल रहे थे कि मेरी गलती है सॉरी पापा मुझे माफ करना. मुझे लगा कि मैं ही नहीं रहूंगी तो बात ही खत्म हो जाएगी.