इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने आज अपने सभी 104 सदस्य देशों को टी-20 इंटरनेशनल स्टेट्स दे दिया है। इन सभी सभी सदस्य देशों के लिए ग्लोबल रैंकिंग सिस्टम भी लाया जाएगा।फिलहाल टी-20 दर्जा वाले 18 देश हैं, जिनमें 12 फुल मेंबर के अलावा स्कॉटलैंड, नीदरलैंड, हांगकांग, यूएई, ओमान और नेपाल है। आईसीसी ने 2021 में होने वाले चैम्पियंस ट्रॉफी को वर्ल्ड टी-20 में बदल दिया। अगला टी-20 वर्ल्डकप 2020 में ऑस्ट्रेलिया में खेला जाएगा।

- आईसीसी के सीईओ डेव रिचडर्सन ने कोलकाता में प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि 104 देशों की महिला और पुरुष टीमों को अलग-अलग मान्यता दी जाएगी। महिला टीमों को 1 जुलाई को और पुरुषों की टीमों को अगले साल 1 जनवरी को दर्जा दिया जाएगा।

- 2017 की चैम्पियंस ट्रॉफी के बाद से ही यह अटकलें लगाई जा रही थीं कि इसे बंद किया जा सकता है। अब इस पर रिचर्डसन ने कहा कि भारत में होने वाली 2021 की चैंपियंस ट्रॉफी टी-20 फॉर्मेट में होगा। इसमें 16 देश भाग लेंगे। दूसरी बार वर्ल्ड टी-20 लगातार दो साल होंगे। इससे पहले 2009 और 2010 में लगातार दो साल वर्ल्ड टी-20 खेले जा चुके हैं।

-आईसीसी के सीईओ ने ओलंपिक में क्रिकेट खेलने पर कहा, "अगर हम सभी ओलंपिक का हिस्सा बनना चाहते हैं, तो इसके लिए एकजुट होना पड़ेगा। उसके बाद मुझे लगता है कि अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति को मनाने के लिए हमारे पास एक अच्छा मौका होगा।"

-रिचर्डसन ने कहा, "अभद्र भाषा के इस्तेमाल, स्लेजिंग और बॉल टेम्परिंग करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सिर्फ जुर्माना लगाने से काम नहीं चलने वाला है। एलन बॉर्डर, शॉन पोलॉक वाली क्रिकेट कमेटी एक प्लान पर काम कर रही है। जो जल्द ही सामने आ जाएगा।"