चंडीगढ़, हरियाणा पुलिस डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को बलात्कार मामले में दोषी ठहराये जाने के बाद पंचकुला और सिरसा में भड़की हिंसा के सिलसिले में जल्द ही डेरा सच्चा सौदा अध्यक्ष विपासना इंसां से पूछताछ करेगी। गुरमीत राम रहीम सिंह के संभावित उत्तराधिकारियों में विपासना भी शामिल है। हरियाणा के डीजीपी बी एस संधू ने कहा, सिरसा पुलिस जल्द ही विपासना इंसां से जांच में शामिल होने के लिए कहेगी। पुलिस ने कहा कि वह राम रहीम की विश्वासपात्र और गोद ली गई बेटी हनीप्रीत और डेरा के प्रमुख पदाधिकारी आदित्य इंसां को पकडने के प्रयास कर रही है और उसका मानना है कि वे अभी भी देश में ही हैं।

संधू ने कहा, हमने दोनों का पता लगाने के लिए पुलिस की टीमें हिमाचल प्रदेश और पंजाब भेजी हैं। हम यह मानकर चल रहे हैं कि वे देश में ही कहीं छुपे हुए हैं। इन आशंका के बाद कि दोनों देश से भागने का प्रयास कर सकते हैं, उनके खिलाफ एक लुकआउट नोटिस जारी किया गया। डेरा सच्चा सौदा के एक अन्य पदाधिकारी सुरिंदर धीमान इंसां से पूछताछ के बाद हनीप्रीत का पता लगाने के प्रयास शुरू किये गए थे। दो साध्वियों से बलात्कार मामले में दोषी ठहराये जाने के बाद गुरमीत राम रहीम को फरार होने में मदद के लिए एक कथित षड्यंत्र के सिलसिले में हिंसा भड़काने के आरोपों में सुरिंदर धीमान इंसा को गिरफ्तार किया गया था।

हरियाणा पुलिस ने इससे पहले विभिन्न स्थानों पर छापेमारी की थी और पुलिस टीमों को मुम्बई और नेपाल की ओर सहित कई स्थानों पर भेजा गया था। हरियाणा पुलिस इसके साथ ही अन्य राज्यों की पुलिस के साथ सम्पर्क में थी। दोषी ठहराये जाने के बाद डोरा प्रमुख को रिहा कराने का षड्यंत्र रचने के लिए पंजाब पुलिस के तीन अधिकारियों को गत सप्ताह गिरफ्तार किया गया। संधू ने कहा, पंजाब पुलिस के तीन कर्मियों को हिरासत में लिया गया है और हमने पांच अन्य कर्मियों को नोटिस जारी किये हैं और उन्हें जांच में शामिल होने के लिए कहा है।