नई दिल्ली. छोटी दिवाली आज है। इस दिन को नरक चतुर्दशी और रूप चौदस भी कहा जाता है। मान्यता है कि इसी दिन भगवान श्री कृष्ण ने नरकासुर राक्षस का वध किया जाता है। मान्यता ये भी कि इस दिन विधि विधान से पूजन करने पर नरक निवारण हो जाता है। वैसे तो धनतेरस लेकर बड़ी दिवाली तक लक्ष्मी पूजन का बड़ा ही महत्व माना गया है और लेकिन छोटी दिवाली के दिन कृष्ण भगवान, यमराज और हनुमान जी की पूजा को महत्व दिया गया है। इस दिन सूर्योदय से पहले उठें और अपने पूरे शरीर पर तिल के तेल लगाने के बाद स्नान करने से पुण्य मिलता है। इस दिन हनुमान जी की पूजा-अर्चना भी की जाती है।

यहां पूजा से भरी थाली है
हर तरफ खुशहाली है
आईए मिलके मनाएं ये खास दिन
क्योंकि आज छोटी दीपावली है।।

कामना है अच्छे की आज बुरे पर विजय हो
प्रार्थना यही हर जगह बस आप ही की जय हो
शुभकामनाएं आज छोटी दीपावली की।।

इस दीपक का प्रकाश हर पल आपके जीवन में
नई रोशनी लाए और अंधकार दूर करे
यही शुभकामना आज छोटी दीपावली पर।।

हमेशा आशीष मिले भगवान श्री गणेश से
विद्या मिले सरस्वती से और धन मां लक्ष्मी से
स्नेह मिले सब से, खुशियां मिलें अपार
मंगलमय हो छोटी दीपावली।।

इन दीयों के संग मौजूद हों खुशियों के रंग
सब और हो खुशिया जीवन में हो उमंग 
छोटी दीपावली की मंगल कामनाएं।।