लाहौर:मुंबई हमले के मुख्य साजिशकर्ता और जमात उद दावा ( जेयूडी ) के प्रमुख हाफिज सईद ने हाल में मारे गए कश्मीरी आतंकियों के लिए उनके शव की गैरमौजूदगी में जनाजे की नमाज पढ़ी. सईद ने शुक्रवार को लाहौर के चौबुरजी में जेयूडी के मुख्यालय में जनाजे की नमाज पढ़ी. उसने कश्मीरियों के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए मुख्यालय के बाहर एक रैली का भी नेतृत्व किया,

साथ ही सईद ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दोस्ती खत्म करने पर प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को ‘राहत’ देने की भी पेशकश की. सईद ने कहा,‘‘ अगर प्रधानमंत्री ( अब्बासी ) और पूर्व प्रधानमंत्री ( शरीफ ) उन समस्याओं से निजात पाना चाहते हैं जिनसे वे इस समय जूझ रहे हैं तो पहले उन्हें भारतीय प्रधानमंत्री मोदी के साथ दोस्ती और अमेरिकी की गुलामी छोड़नी होगी,

सईद ने कहा कि पाकिस्तान सरकार को कश्मीरियों को समर्थन देने के संबंध में फालतू बहाने देने बंद कर देने चाहिए और लोगों को अपनी सीमाओं के बारे में बताना चाहिए.उसने कहा कि कश्मीरी आतंकियों का संघर्ष ‘‘निर्णायक ’’दौर में पहुंच गया है,