गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें  कॉमनवेल्थ गेम्स में पहले ही दिन भारत ने पदक का खाता खोल लिया है। भारतीय वेटलिफ्टर गुरुराजा ने यहां पहला मेडल जीता। गुरुराजा ने कुल 249 किलोग्राम उठाकर सिल्वर मेडल जीता और विदेशी सरजमीं पर देश का सम्मान बढ़ाया। मलेशिया के इजहार अहमद ने स्वर्ण पदक पर कब्जा किया, तो वहीं श्रीलंका के चतुरंगा लकमल ने कांस्य पदक जीता।

गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें  कॉमनवेल्थ गेम्स में पहले ही दिन भारत ने पदक का खाता खोल लिया है। भारतीय वेटलिफ्टर गुरुराजा ने यहां पहला मेडल जीता। गुरुराजा ने कुल 249 किलोग्राम उठाकर सिल्वर मेडल जीता और विदेशी सरजमीं पर देश का सम्मान बढ़ाया। मलेशिया के इजहार अहमद ने स्वर्ण पदक पर कब्जा किया, तो वहीं श्रीलंका के चतुरंगा लकमल ने कांस्य पदक जीता।

गुरुराजा ने 56 किलाग्राम की वेटलिफ्टिंग कैटेगरी में सिल्वर मेडल जीता है। 261 किलोग्राम वजन उठाकर स्वर्ण पदक जीतने वाले इजहार ने कॉमनवेल्थ गेम्स में नया रिकॉर्ड भी कायम किया है। वहीं श्री लंका के चतुरंगा लकमल ने 248 किलोग्राम भार उठाकर कांस्य पदक जीता है।

गुरुराजा वेटलिफ्टिंग के अलावा पावरलिफ्टिंग में भी अपना हाथ आजमा चुके हैं। बता दें कि इससे पहले साल 2017 में ऑस्ट्रेलिया में हुई कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में गुरुराजा ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था। गुरुराजा ने साल 2010 में वेटलिफ्टिंग में कदम रखा था। 2016 में पेनांग में हुई कॉमनवेल्थ सीनियर वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में वह स्वर्ण पदक भी जीत चुके हैं। इसके अलावा साल की शुरुआत में उन्होंने साउथ एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था।