जयपुर, राजधानी के मोतीडूंगरी थाना इलाके स्थित गुर्जर हॉस्टल के छात्रों ने जमकर उत्पात मचाया। मामुली कहासुनी के बाद छात्रों ने पुलिस समेत कॉलोनीवासियों पर ईट, पत्थर और शराब की बोतलें फेंकी। घटना में करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गए। इस पर पुलिस ने हॉस्टल के 33 छात्रों को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक गुर्जर हॉस्टल के सामने की नई सड़क बिछाई जा रही है। नई सड़क बिछाए जाने के कारण स्थानीयवासी हॉस्टल के फुटपाथ से होकर जा रहे थे।

अचानक एक युवक ने हॉस्टल के बाहर बाइक खड़ी कर दी। बस फिर क्या था। जैसे ही वह युवक बाइक ले जाने लगा तो हॉस्टल के बाहर बैठे छात्रों ने उसके साथ गाली-गलौच करते हुए मारपीट की और बाइक को पटक दिया। इस दौरान छात्रों ने युवक को डरा-धमका कर भगा दिया। देखते ही देखते वह युवक अपने साथ बस्ती के लोगों को लेकर हॉस्टल आ गया। इसके चलते छात्र और बस्ती के लोगों के बीच आपसी कहासुनी शुरू हो गई और मामला मारपीट तक आ गया। इसके बाद हॉस्टल के छात्रों ने छत पर चढ़कर बस्ती और कॉलोनीवासियों पर पथराव कर दिया।

हालांकि सूचना पर पहुंची पुलिस ने हॉस्टल के छात्रों के साथ समझाइस का प्रयास किया। लेकिन वह नहीं मानें और उन्होंने यहां मौजूद लोगों के साथ पुलिस पर भी ईट, पत्थर, शराब और बीयर की खाली बोतलें फेंकना शुरू कर दिया। इस घटना में आधा दर्जन से अधिक महिला पुरूष घायल हो गए, जिन्हें सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया। एक महिला के हाथ में फे्रक्चर हो गया। इस पर पुलिस ने और जाब्ता बुलाते हुए करीब 33 छात्रों को गिरफ्तार कर लिया। बस्ती वालों का आरोप है कि गुर्जर हॉस्टल के छात्र आए दिन युवतियों और महिलाओं के साथ छेड़छाड़ अभद्र व्यवहार करते हैं।