इंटरनेट डेस्क, पिछड़ों और वंचितों के हक के लिए लडऩे वाली साहित्यकार महाश्वेता देवी के जन्मदिन के अवसर पर गूगल ने उन्हें याद करते हुए अपना डूडल समर्पित किया हैं। आज महाश्वेता देवी की 92 वें जन्मदिन हैं। उनके जीवन पर एक नजर डाले तो महाश्वेता देवी का जन्म 14 जनवरी 1926 को अविभाजित भारत के ढाका में हुआ था। महाश्वेता देवी ने 1936 से 1938 तक शांतिनिकेतन में शिक्षा हासिल की थी। उन्हें साहित्य अकादेमी पुरस्कार, ज्ञानपीठ पुरस्कार और रोमन मैगसेसे पुरस्कार से नवाजा जा चुका है।

आपको बता दें कि महाश्वेता देवी ने पूरी जिंदगी लेखन के साथ महिलाओं, दलितों और आदिवासियों के अधिकारों के लिए जमीन पर संघर्ष करती रहीं। गूगल द्वारा समर्पित किए गए डूडल में साड़ी पहने महाश्वेता देवी कुछ लिखती नजर आ रही हैं। डूडल में उनके पीछे अलग-अलग संस्कृति, सभ्यता, भाषा, परिवेश के लोगों की झलक नजर आ रही है। यह इस बात की ओर सभी का ध्यान खींचता है कि महाश्वेता देवी ना सिर्फ अपनी लेखनी में बल्कि अपने संपूर्ण जीवन में  हर तबके के लिए संघर्ष करती रहीं।