नई दिल्ली:बैंक ग्राहकों के लिए अच्‍छी खबर है।अगर आप लोन लेने के इच्‍छुक हैं तो इंडिया पोस्ट पेमेंट बैक जल्‍द आपको यह सुविधा प्रदान करेगा।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 अगस्त को बहुप्रतीक्षित इंडिया पोस्‍ट के पेमेंट बैंक (आईपीपीबी) का शुभारंभ करेंगे।खास बात यह है कि राष्ट्रीय स्तर पर आईपीपीबी की शुरुआत होने के बाद विश्वासपात्र डाकिया बैंकिंग सेवाओं से महरूम लाखों भारतीयों के लिए बैंकर बन जाएगा।यह बैंक लोन बांटने के साथ-साथ म्‍युचुअल फंड और बीमा पॉलिसी भी बेचेगा। इसकी हरेक जिले में कम से कम एक शाखा होगी।यह ग्रामीण क्षेत्रों में वित्तीय सेवाओं पर ध्यान केंद्रित करेगा।बैंक की दो शाखाएं पहले से परिचालन में हैं। शेष 648 शाखाएं देश के हरेक जिले में शुरू होंगी।

दोगुनी हो जाएंगी बैंक ऑपरेशनल शाखाएं
संचार राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने बताया कि डाक विभाग का प्रसार देश के ग्रामीण और दूरदराज के कोने-कोने में है।इनमें खासतौर से वैसे लोग शामिल होंगे जिनकी अब तक वित्तीय सेवाओं में पहुंच नहीं बन पाई है। डाकघरों के भुगतान बैंक बन जाने से ग्रामीण इलाकों में बैंक की शाखाएं 49,000 से बढ़कर 1.30 लाख यानी दोगुना से ज्यादा हो जाएंगी।

बजाज एलियांज के साथ बीमा के लिए किया करार
एक अधिकारी ने बताया कि इंडिया पोस्‍ट पेमेंट बैंक थर्ड पार्टी टाइअप के जरिए म्‍यूचुअल फंड और बीमा पॉलिसी बेचेगा।यह पंजाब नेशनल बैंक के भी कुछ उत्‍पाद बेचेगा। आईपीपीबी ने बजाज आईपीपीबी ने बजाज एलियांज के साथ बीमा उत्‍पाद बेचने के लिए करार किया है। वह अन्‍य उत्‍पाद बेचने के लिए कई और कंपनियों के साथ टाइअप करेगा। यह देश का सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क बन जाएगा।

ग्राहकों की सहूलियत बढ़ेगी
पोस्ट ऑफिस में डिजिटल बैंकिंग सर्विस शुरू होने से खातेदार अपने एकाउंट से किसी भी बैंक खाते में धन ट्रांसफर कर सकेंगे।पोस्ट ऑफिस में कुल 34 करोड़ बचत खाताधारक हैं।इनमें से 17 करोड़ पोस्ट ऑफिस सेविंग्स बैंक अकाउंट हैं।बाकी बचत खातों में मंथली इनकम स्कीम और आरडी शामिल हैं।

मोबाइल ऐप से भी पेमेंट का मिलेगा ऑप्‍शन
खाताधारकों को अपने आईपीपीबी अकाउंट से सुकन्‍या समृद्धि, आरडी, एफडी जैसे प्रोडक्‍ट के लिए पेमेंट का ऑप्‍शन मिलेगा।ईपीपीबी जल्‍द मर्चेंट रजिस्‍ट्रेशन शुरू करेगा।जो कि उसके कमस्‍टर्स का पेमेंट ऐप के जरिए कर सकें। आईपीपीबी जल्‍द ही अपना ऐप बेस्‍ड पेमेंट सिस्‍टम लाएगा. इसके जरिए ग्रॉसरी, टिकट आदि का पेमेंट हो सकेगा।