कोच्चि, केरल के कोच्चि शिपयार्ड में मंगलवार को तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) के एक टैंकर में विस्फोट से पांच लोगों की मौत हो गई और दर्जनभर घायल हो गए। विस्फोट के समय अधिकतर दैनिक मजदूर और ठेके पर काम करने वाले कामागार थे। मंगलवार को अवकाश होने की वजह से शिपयार्ड का कोई भी नियमित कामगार वहां मौजूद नहीं था। यह विस्फोट सुबह लगभग 11 बजे ओएनजीसी टैंकर सागर भूषण के पानी के टैंक में हुआ।

इस दौरान लगभग 20 मजदूर काम कर रहे थे। कोच्चि शिपयार्ड में बीते एक महीने से सागर भूषण की मरम्मत का काम चल रहा था। पुलिस के आलाधिकारी और शिपयार्ड के शीर्ष अधिकारी दुर्घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं। कोच्चि शहर के पुलिस आयुक्त एम.पी. दिनेश ने मीडिया को बताया, "धमाके के बाद धुएं से दम घुटने से लोगों की मौत हुई है।" दिनेश ने बताया कि जांच के आदेश दिए गए हैं। निजी अस्पताल में मौजूद मजदूर संघ के नेता ने कहा कि नौ मजदूरों को यहां भर्ती कराया गया है।