करौली:दुर्गा अष्टमी पर कैला माता के दरबार में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा और लाखों श्रद्धालुओं ने माता के दरबार में धोक लगाकर शांति खुशहाली की मनौती मांगी। इस मौके पर कन्या लांगुरिया का जीवन कराया गया हवन यज्ञ आदि के भी आयोजन हुए। माता के दरबार में मंगला आरती से ही भक्तों की कतार लग गई। रेलिंग में कतार 1 श्रद्धालुओं को माता के दर्शनों के लिए दो-तीन घंटे इंतजार करना पड़ा। हाथों में पूजा की थाली सजाई श्रद्धालु कैला माता के जयकारे लगाते नजर आए। 

श्रद्धालु कालीसिल नदी में स्नान कर माता के दर्शनों के लिए पहुंचे। माता के दरबार में भारी भीड़ नियंत्रित करने के लिए पुलिस आरएसी जवानों को भी मशक्कत करनी पड़ी। भारी गर्मी के बीच रेल में परेशान हो रही श्रद्धालुओं को कैला देवी ट्रस्ट की ओर से पानी के पाउच वितरित किए गए। माता के दरबार में राजस्थान के विभिन्न जिलों के अलावा मध्य प्रदेश उत्तर प्रदेश हरियाणा दिल्ली से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे। श्रद्धालुओं की वापसी के दौरान बस खचाखच नजर आई और श्रद्धालु बसों की छतों पर बैठी यात्रा करते नजर आए।