नई दिल्ली: दिल्ली की वायु गुणवत्ता मंगलवार को लगातार दूसरे दिन खराब रही और अधिकारियों ने पूर्वानुमान व्यक्त किया कि हवा के रुख में बदलाव के चलते अगले कुछ दिन में यह और खराब होगी.  हरियाणा और पंजाब में पराली जलाए जाने से वायु गुणवत्ता खराब हो रही है. दिल्ली में मंगलवार की शाम चार बजे कुल वायु गुणवत्ता सूचकांक (ए क्यू आई) 256 दर्ज किया गया जो ‘खराब’ श्रेणी में आता है. केंद्र संचालित वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान तथा अनुसंधान प्रणाली (सफर) के डेटा के अनुसार सोमवार को ए क्यू आई 262 था. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सी पी सी बी) के डेटा के अनुसार गाजियाबाद और गुड़गांव में ए क्यू आई ‘अत्यंत खराब’ रहा जो क्रमश: 307 और 328 था.

दिल्ली की वायु गुणवत्ता में हुआ सुधार, प्रदूषण में आई कमी

सफर ने पूर्वानुमान व्यक्त किया कि घातक प्रदूषक तत्व 2.5 (2.5 माइक्रो मीटर से कम व्यास वाले कणों की मौजूदगी) में बढ़ोतरी के साथ वायु गुणवत्ता और खराब होगी जो अगले कुछ दिन में ‘अत्यंत खराब’ की श्रेणी में पहुंच सकती है. 

दिल्ली में फिर जहरीली हुई हवा, गुणवत्ता फिर से खराब श्रेणी में पहुंची

प्रदूषक तत्व 2.5 प्रदूषक तत्व 10 के मुकाबले अधिक घातक होता है क्योंकि छोटे कण फेफड़ों में अधिक गहराई तक जा सकते हैं तथा ज्यादा नुकसान पहुंचा सकते हैं.