नई दिल्ली:इंडियन प्रीमियर लीग के 18वें मुकाबले में चेन्नई सुपरकिंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब (Chennai Super Kings Vs Kings XI Punjab) को 10 विकेट से हरा दिया. 179 रनों के लक्ष्य को चेन्नई सुपरकिंग्स के बल्लेबाजों ने 14 गेंद पहले हासिल कर लिया. चेन्नई के ओपनर फाफ डुप्लेसी ने 53 गेंदों में 87 और शेन वॉटसन ने 53 गेंदों में नाबाद 83 रनों की पारी खेली. चेन्नई की इस जीत में कई बड़े रिकॉर्ड टूट गए, वहीं किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने भी अनचाहा रिकॉर्ड अपने नाम किया. आइए डालते हैं उनपर एक नजर.

चेन्नई सुपरकिंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को दूसरी बार 10 विकेट से मात दी. इससे पहले साल 2013 में भी चेन्नई ने पंजाब को मोहाली में 10 विकेट से हराया था.

चेन्नई सुपरकिंग्स आईपीएल की दूसरी टीम है जिसने एक से ज्यादा बार 10 विकेट से जीत दर्ज की है. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ये कारनामा सबसे ज्यादा 3 बार ये कारनामा कर चुकी है.

किंग्स इलेवन पंजाब ने चौथी बार 10 विकेट से मैच गंवाया है. ये अनचाहा रिकॉर्ड बनाने वाली वो एकलौती टीम है.

ओपनर शेन वॉटसन और डुप्लेसी के बीच नाबाद 181 रनों की साझेदारी हुई जो कि चेन्नई की ओर से बनी सबसे बड़ी साझेदारी है. इसके अलावा किंग्स इलेवन के खिलाफ बनी ये सबसे बड़ी साझेदारी है. वहीं आईपीएल में ये चौथी सबसे बड़ी ओपनिंग साझेदारी है.

आईपीएल में सबसे बड़ी ओपनिंग साझेदारी का रिकॉर्ड वॉर्नर और बेयरस्टो के नाम. इन दोनों ने आरसीबी के खिलाफ 185 रनों की साझेदारी की थी. गुजरात लायंस के खिलाफ गंभीर और क्रिस लिन ने भी नाबाद 184 रनों की पार्टनरशिप की थी. केएल राहुल और मयंक अग्रवाल राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 183 रनों की साझेदारी कर चुके हैं. अब वॉटसन और डुप्लेसी ने 181 रनों की साझेदारी की है.