नई दिल्ली. भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच 17 दिसंबर से चार टेस्ट मैचों की सीरीज का आगाज होगा. इस बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border Gavaskar Trophy) का पहला मैच एडिलेड में खेला जाएगा. यह डे-नाइट टेस्ट (Day Night Test Match) मैच होगा, जो पिंक बॉल से खेला जाएगा. इस सीरीज में भारत के पास पहली बार मौका होगा कि वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार तीन टेस्ट सीरीज जीत ले. दरअसल, भारतीय क्रिकेट टीम पिछली दो टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को हरा चुका है. ऐसे में अगर इस बार की सीरीज पर टीम इंडिया जीत लेती है तो वह लगातार तीन सीरीज जीतने का रिकॉर्ड बना लेगी.


टीम इंडिया ने पिछली बार ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 2-1 से मात दी थी. भारत की ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर यह पहली टेस्ट सीरीज जीत थी. इसी के साथ विराट कोहली पहले एशियाई कप्तान बन गए थे, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में टेस्ट सीरीज में मात दी थी. भारत ने ऑस्ट्रेलिया में अब तक 12 में से 8 सीरीज हारीं हैं और 3 ड्रॉ खेली हैं.

1947-48 में खेली गई थी पहली द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 1947-48 में पहली द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज खेली गई थी, जिसमें ऑस्ट्रेलिया ने जीत हासिल की थी. भारत ने ऑस्ट्रेलिया के साथ अंतिम द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज 2018-19 में खेली थी, जिसमें भारत ने जीत हासिल की थी.

कुछ ऐसा है भारत-ऑस्ट्रेलिया का टेस्ट रिकॉर्ड
1947-48 से लेकर अबतक भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 26 टेस्ट सीरीज खेली जा चुकी हैं, हालांकि यह सभी द्विपक्षीय नहीं रही हैं. इन 26 टेस्ट सीरीज में से 12 में ऑस्ट्रेलिया और 9 में भारत ने जीत हासिल की है, जबकि 5 सीरीज ड्रॉ रही हैं. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच अबतक 98 टेस्ट मैच खेले गए हैं. इनमें से 28 बार भारत और 42 बार ऑस्ट्रेलिया ने जीत हासिल की है. इनमें से 27 टेस्ट मैच ड्रॉ और एक टाई हुआ है.

एडिलेड और मेलबर्न में भारत ने हासिल की थी जीत
बता दें कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज के मैच एडिलेड, मेलबर्न, सिडनी और ब्रिस्बेन में खेले जाएंगे. हर वेन्यू पर एक मैच होगा. 2018-19 की बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के दौरान भारत ने ऑस्ट्रेलिया को एडिलेड में 31 और मेलबर्न में 137 रनों से मात दी थी. सिडनी में खेला गया अंतिम टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था. वहीं, पर्थ में खेला गया टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया ने 146 रनों से जीता था.