नई दिल्ली. भारत का गोल्ड कोस्ट का सफर 2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स से शानदार रहा। भारत ने यहां 26 गोल्ड के साथ 66 मेडल जीते, जबकि ग्लासगो में 64 पदक ही जीते थे और मेडल टैली में पांचवें स्थान पर था। इस बार मेडल टैली में भारत तीसरे नंबर पर रहा। इन गेम्स में यह उसका तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है, जबकि विदेश में पहला। 2002 मेलबर्न कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने हालांकि 69 मेडल जीते थे, लेकिन वह पदक तालिका में चौथे स्थान पर रहा था। गोल्ड कोस्ट में भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स में 84 साल के अपने सफर में 500 पदकों के आंकड़े को भी पार लिया।

ऑस्ट्रेलिया (80 गोल्ड) और इंग्लैंड (44 गोल्ड) क्रमश: पहले और दूसरे नंबर पर रहे. भारत का कॉमनवेल्थ गेम्स में यह तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा. इससे पहले 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने सर्वाधिक 38 गोल्ड मेडल जीते थे. इसके अलावा 2002 के मैनचेस्टर कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के हिस्से 30 गोल्ड मेडल आए थे.

भारतीय एथलीटों ने 9 खेलों में पदक जीते, सबसे ज्यादा 7 गोल्ड मेडल शूटिंग में मिले. इसके बाद वेटलिफ्टिंग में पहली बार 5 गोल्ड मेडल जीतकर भारत ने इतिहास रचा.

भारत किस खेल में कितने पदक

1. निशानेबाजी: 7 गोल्ड, 4 सिल्वर, 5 ब्रॉन्ज, कुल 16

2. कुश्ती: 5 गोल्ड, 3 सिल्वर, 4 ब्रॉन्ज, कुल 12

3. भारोत्तोलन: 5 गोल्ड, 2 सिल्वर, 2 ब्रॉन्ज, कुल 9

4. मुक्केबाजी: 3 गोल्ड, 3 सिल्वर, 3 ब्रॉन्ज, कुल 9

5. टेबल टेनिस : 3 गोल्ड, 2 सिल्वर, 3 ब्रॉन्ज, कुल 8

6. बैडमिंटन : 2 गोल्ड, 3 सिल्वर, 1 ब्रॉन्ज, कुल 6

7. एथलेटिक्स: 1 गोल्ड, 1 सिल्वर, 1 ब्रॉन्ज, कुल 3

8. स्क्वैश : 0 गोल्ड, 2 सिल्वर, 0 ब्रॉन्ज, कुल 2

9. पैरा पवरलिफ्टिंग : 0 गोल्ड, 0 सिल्वर, 1 ब्रॉन्ज, कुल १

भारत ने 11वें दिन 1 गोल्ड, 4 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज समेत 7 मेडल जीते। भारत के अब तक कॉमनवेल्थ गेम्स में कुल 504 मेडल हो गए हैं।

कुल मेडल गोल्ड       सिल्वर ब्रॉन्ज

504          181        175         148