मेवाड़ के पूर्व राजघराने के सदस्य लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ को राज्यपाल कलराज मिश्र ने शनिवार को जयपुर में सम्मानित किया। लक्ष्यराज सिंह को यह सम्मान उनके समाज सेवा कार्यों के लिए दिया गया। बता दें कि लक्ष्यराज ने अपने सहयोगियों के साथ 20 सेकंड में 4035 पौधे लगाकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। इसके साथ ही लक्ष्यराज ने भारत समेत ऑस्ट्रेलिया, यूएसए, ओमान, श्रीलंका, यूएई समेत अन्य देशों के 80 शहरों से 3 लाख कपड़े एकत्रित कर जरूरतमंद लोगों को बाटे थे किए थे।

राज्यपाल कलराज मिश्र से पत्नी निवृत्ति कुमारी के साथ मुलाकात करते लक्ष्यराज सिंह मेवाड़।

राज्यपाल कलराज मिश्र से पत्नी निवृत्ति कुमारी के साथ मुलाकात करते लक्ष्यराज सिंह मेवाड़।

यंग अचीवर फॉर प्रिजर्विंग हेरिटेज एंड प्रमोटिंग हॉस्पिटल अवार्ड भी जीत चुके हैं लक्ष्यराज
लक्ष्यराज अरविंद सिंह मेवाड़ के बेटे हैं। लक्ष्यराज की शुरुआती पढ़ाई अजमेर के मेयो से हुई थी। जिसके बाद उन्होंने ऑस्ट्रेलिया से ग्रेजुएशन और सिंगापुर में हॉस्पिटेलिटी कोर्स किया। कोर्स पूरा होने के बाद लक्ष्यराज ने ऑस्ट्रेलिया की कई होटल में काम किया था। इसके बाद उदयपुर लौटने पर लक्षराज ने अपने फैमिली बिजनेस को संभाला और एचआरएच ग्रुप ऑफ होटल्स के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर बने। इस दौरान लक्ष्यराज सिंह द्वारा किए गए कार्यों के लिए उन्हें यंग अचीवर्स फॉर प्रिजर्विंग हेरिटेज प्रमोटिंग हॉस्पिटल के लिए सम्मानित भी किया जा चुका है। यह अवार्ड बीडब्ल्यू बिजनेसवर्ल्ड द्वारा दिया गया था।