नई दिल्ली : दिल्ली और आसपास के इलाकों में शुक्रवार की सुबह से ही चल रहे मौसम के लुका-छिपी के खेल के बाद शाम को मौसम ने अचानक ही करवट बदली और दिल्ली समेत पूरे एनसीआर में तेज धूल भरी आंधियां चलीं, कुछ जगहों पर हल्की बौछार भी हुई, मौसम में अचानक बदलाव से गर्मी का सामना कर रहे लोगों को कुछ राहत मिली है, मौसम विभाग ने मौसम में बदलाव का पूर्वानुमान व्यक्त किया था,

दिन में छाया अंधेरा
शाम 5 बजे के आसपास दिल्ली के आसमान में धूल का गुब्बार छा गया, यह गुब्बार इतना घना था कि शाम को ही अंधेरा छा गया, सड़कों पर चलने वाले वाहनों को लाइट जलानी पड़ी, कुछ देर बाद तेज हवाएं चलने लगीं और आंधी-तूफान ने पूरे एनसीआर को अपने आगोश में ले लिया, तेज हवाएं चलने के बाद तेज बारिश भी हुई, एक-दो जगहों पर ओले पड़ने के भी समाचार मिले हैं, मौसम में बदलाव इतना तेजी से हुआ कि सड़क चलते हुए लोग एक जगह ठहर गए और खुद को धूल से बचाने के लिए इधर-उधर छिपते देखे गए, 

यातायात प्रभावित
इस आंधी और बारिश के चलते दिल्ली की सड़कों पर जाम लग गया, बेहिसाब दौड़ने वाली दिल्ली की रफ्तार में मौसम ने ब्रेक लगा दिए, मौसम के कारण दिल्ली मेट्रो की रफ्तार भी कम हो गई, आंधी के कारण बिजली की लाइन में कमी आने से मेट्रो ट्रेन कई जगह बाधित रहीं, ट्रेनों के लेट चलने से स्टेशनों पर यात्रियों की भारी भीड़ जमा हो गई, इससे यात्रियों को काफी परेशानियां झेलनी पड़ीं, तेज हवाओं और बारिश का सिलसिला रात आठ बजे के बाद भी जारी रहा, खराब मौसम के कारण हवाई यातायात पर भी असर पड़ा, दिल्ली आने-जाने वाली उड़ान एक घंटे से भी ज्यादा समय तक प्रभावित रहीं, 24 उड़ानों को दिल्ली से बहार ही रोकना पड़ा, 

किसानों के लिए आफत
मौसम के इस बदलाव से किसी को राहत मिली है तो किसानों के लिए यह आफत बनकर आया है, गेहूं की फसल की कटाई चल रही है, बारिश और आंधी से खेतों में पड़ी फसल को काफी नुकसान हुआ है,

मौसम विभाग ने बताया कि अभी 2-3 दिन और मौसम ऐसा ही बना रहेगा, मौसम विभाग ने लोगों को जागरुक करते हुए कहा कि आंधी चलने पर लोग टीन के शेड, बैनर या होर्डिंग या किसी पेड़ के नीचे खड़े ना हों, मौसम विभाग ने बताया कि कश्मीर के पास भी कमजोर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के चलते दिल्ली में हवा की दिशा उत्तरपश्चिमी से बदलकर दक्षिणपूर्वी हो गई है,