चमोली. इस बार शीतकाल के दौरान भारी बर्फ़बारी की वजह से चमोली की नीती और माणा घाटी में सीमा से जोड़ने वाली सड़कें बंद हो गई हैं. माणा घाटी में हाइवे पर जमी बर्फ़ को हटाने का काम लगतार जारी है. बीआरओं की टीम बद्रीनाथ तक पहुंच चुकी है और मार्ग पर पड़ी कई फुट बर्फ़ को हटाने का काम किया जा रहा है. ये तस्वीर प्रकृति की असीम शक्ति के ख़िलाफ़ इंसानी हिम्मत का दस्तावेज़ भी हैं.

2/ 5

 तिब्बत सीमा को जोड़ने वाले इन रास्तों पर अभी दूर-दूर तक बर्फ़ है और यह तक पता नहीं चल पा रहा कि सड़क कहां हुआ करती थी. तिब्बत सीमा को जोड़ने वाले इन रास्तों पर अभी दूर-दूर तक बर्फ़ है और यह तक पता नहीं चल पा रहा कि सड़क कहां हुआ करती थी.

तिब्बत सीमा को जोड़ने वाले इन रास्तों पर अभी दूर-दूर तक बर्फ़ है और यह तक पता नहीं चल पा रहा कि सड़क कहां हुआ करती थी.

3/ 5

 नीती घाटी में भी बर्फ हटाने का काम युद्धस्तर पर जारी है. नीती घाटी में भी बर्फ हटाने का काम युद्धस्तर पर जारी है.

नीती घाटी में भी बर्फ हटाने का काम युद्धस्तर पर जारी है.

4/ 5

 इन तस्वीरों में देख सकते हैं किस तरह से बीआरओं के जवान मशीनों के ज़रिए सड़क से बर्फ हटाने का काम कर रहे हैं. इन तस्वीरों में देख सकते हैं किस तरह से बीआरओं के जवान मशीनों के ज़रिए सड़क से बर्फ हटाने का काम कर रहे हैं.

इन तस्वीरों में देख सकते हैं किस तरह से बीआरओं के जवान मशीनों के ज़रिए सड़क से बर्फ हटाने का काम कर रहे हैं.

5/ 5

 माना जा रहा है कि जल्द ही इन सड़कों को आवाजाही के लिए खोल दिया जाएगा. माना जा रहा है कि जल्द ही इन सड़कों को आवाजाही के लिए खोल दिया जाएगा.

माना जा रहा है कि जल्द ही इन सड़कों को आवाजाही के लिए खोल दिया जाएगा.