शिवपुरी:जिले के खनियाधाना थाना क्षेत्र के देवखो गांव में मंगलवार की देर शाम भाजपा कार्यकर्ता नातीराजा यादव का शव पेड़ से लटका मिला है। मृतक के परिजनों का आरोप है कि गांव का ही एक लड़का उसे बुलाने के लिए रात में घर आया था। एक बार तो उसे यह कहकर लौटा दिया था कि वह घर पर नहीं है, लेकिन दूसरी बार जब सब सो गए तो नातीराजा को साथ बुलाकर ले गया। उसके बाद से नातीराजा का पता नहीं चला और देर शाम कुएं के पास शव पेड़ पर टंगा मिला।

परिजन इसे चुनावी रंजिश के चलते हत्या करना बता रहे हैं, जबकि पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक तौर पर यह आत्महत्या लग रही है। लेकिन  आत्महत्या और हत्या के बारे में जांच के बाद ही स्पष्ट कुछ कहा जा सकता है। 

रात को गया था: जानकारी के मुताबिक नातीराजा निवासी ग्राम गढ़ामोटा का शव देवखो गांव में कुएं के पास मंगलवार की शाम पेड़ से टंगा मिला। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची तो नातीराजा का शव पेड़ पर रस्सी के सहारे फंदे पर झूल रहा था। मामले में चाचा ब्रजभान सिंह यादव का कहना है कि गांव का ही संदीप चौहान नामक युवक सोमवार की रात 8 बजे घर आया। उसने नातीराजा के बारे में पूछा तो हमने बाहर होने की कहकर लॉटा दिया। इसके बाद हम सभी सो गए। रात करीब 10 बजे वही लड़का फिर से घर आया और नातीराजा को बुलाकर ले गए। हमने सोचा नातीराजा खनियाधाना चला गया होगा। 

परिजनों ने की तलाश: मंगलवार की सुबह 10 बजे फोन लगाने पर बंद बता रहा था। इसलिए खनियाधाना संपर्क किया तो नातीराजा वहां भी नहीं पहुंचा। इसके बाद उसकी तलाश करने लगे। मंगलवार की शाम को पता चला कि नातीराजा का शव पेड़ पर फंदे पर झूल रहा है। रात में जिन लोगों के साथ नातीराजा गया था, उन्हीं ने मिलकर फांसी के फंदे पर लटका दिया। 

चुनाव प्रचार किया था: मौत की घटना के बाद चाचा ब्रजभान सिंह यादव का आरोप है कि भतीजा नातीराजा गुजरात में एक कैंटीन में 14500 रुपए मासिक वेतन पर काम करता था। दीपावली त्यौहार के तीन दिन बाद घर लौट आया था। यहां देवखेड़ा में रहने वाले छोटे मामा अवतार सिंह यादव के साथ मिलकर भाजपा प्रत्याशी प्रीतम सिंह लोधी के लिए प्रचार किया था। ब्रजभान ने आशंका जताई है कि चुनावी रंजिश के चलते मेरे भतीजे को मार डाला।  

केस दर्ज किए: पिछोर से भाजपा प्रत्याशी रहे प्रीतम सिंह लोधी ने इस घटना के बाद पुलिस पर कांग्रेस के इशारे पर झूठे मुकद्मे दर्ज करने का आरोप लगाया। इस घटना पर प्रीतम सिंह का कहना है कि नातीराजा ने विस चुनाव में भाजपा की तरफ से प्रचार-प्रसार किया था। उसका घर से अपहरण कर हत्या की गई है। इस मामले की निष्पक्ष जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई की मांग करेंगे। कांग्रेस के दबाव में पुलिस ने हमारे कई लोगों पर मुकदमे दर्ज कर दिए हैं।