नई दिल्ली/बहराइच: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है, बीजेपी के सांसद के द्वारा लिखे पत्र के बाद शुरू हुए विवाद पर नेताओं की बयानबाजी जारी है, बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले ने जिन्ना को लेकर एक विवादित बयान दिया है, बीजेपी की बागी सांसद ने एक बार फिर पार्टी लाइन से बाहर जाकर जिन्ना को महापुरुष करार दिया, बीजेपी सांसद ने कहा है कि जिन्ना एक महापुरुष थे, देश की आजादी की लड़ाई में उनका योगदान था, वो महापुरुष थे हैं और रहेंगे,

 'जिन्ना रहेंगे महापुरुष'
बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले ने कहा,'वो महापुरुष हैं, थे और रहेंगे, उनकी तस्वीर जहां भी जरूरत हो लगाई जानी चाहिए', उन्होंने कहा कि बहुजन समाज के असल मुद्दों जैसे गरीबी, भुखमरी की आवाज को डायवर्ट करने के लिए ऐसे मामले उठाए जा रहे हैं, आपको बता दें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने जिन्ना की तारीफ करते हुए तस्वीर लगाने को सही ठहराया था, उन्होंने कहा था, 'जिन महापुरुषों का योगदान इस राष्ट्र के निर्माण में रहा है, उन पर उंगली उठाना गलत बात है'

पार्टी लाइन से दिया बयान
बहराइच की बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले बीजेपी से बागी होने के बाद लगातार पार्टी लाइन से हटकर दे रही, आपको बता दें कि इससे पहले यूपी के कबीना मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने भी अधिकारियों पर भेदभाव करने का आरोप लगाया था, उनके समर्थन में बीजेपी सांसद ने कहा कि हमें भारत की सांसद न कहकर दलित सांसद कहा जाता है,

दलित मामलों के लिए धरने पर बैठेंगी सांसद 
बीजेपी की बागी सांसद सावित्रीबाई फुले आगामी 15 मई को बहराइच के कलेक्ट्रेट पर दलित मामलों पर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन आयोजित कर रही हैं, उन्होंने कहा कि आज पूरे देश में बहुजन समाज को बराबर सम्मान मिलता तो उन्हें आंदोलन नहीं करना पड़ता,