आगरा, समाजवादी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी पर धार्मिक उन्माद फैलाकर सत्ता हासिल करने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि चुनाव के पहले इसी तरह का हथकंडा फिर अपनाया जा सकता है। पार्टी के एक दिवसीय राष्टीय प्रतिनिधि सम्मेलन में पारित राजनीतिक और आर्थिक प्रस्ताव में कहा गया है कि भाजपा मीडिया के सहारे असत्य बोलकर सत्ता हासिल करती है। भाजपा की कार्यशैली की तुलना हिटलर से की जा सकती है। प्रस्ताव में कहा गया है कि भाजपा विपक्षी दलो को तोडने का प्रयास कर रही है। भाजपा लोकतंत्र के लिए खतरा बन गई है। मीडिया लोकतंत्र का चैथा खम्भा है। उसे भी प्रभावित किया जा रहा है। प्रस्ताव के अनुसार सर्जिकल स्ट्राइक के बाद आतंकवाद बढ़ा है। सीमाए सुरक्षित नही है। विदेश नीति के नाकामी की वजह से पडोसी मित्र देशो से भी सबंध खराब हो रहे है। किसानो की हालत बदतर है। कर्जे माफ करने की नीति ठीक नहीं रही। किसान बेहाल है। बेरोजगारी बढ़ी है। नोटबंदी और जीएसटी से अर्थव्यवस्था चरमरा गई है।