करीब 18 घंटे की काउंटिंग के बाद बिहार में नतीजों की तस्वीर साफ हो गई। NDA 125 सीटों के साथ सत्ता बचाने में कामयाब रहा, लेकिन सबसे ज्यादा नुकसान उठाने वाली पार्टी नीतीश कुमार की जदयू ही रही। पिछली बार के मुकाबले जदयू की 28 सीटें घट गईं और वह 43 सीटों पर आ गई। वहीं, भाजपा 21 सीटों के फायदे के साथ 74 सीटों पर पहुंच गई। राजद सबसे बड़ा दल बनकर उभरा, जिसे 75 सीटें मिलीं। उसके नेतृत्व वाले महागठबंधन को 110 सीटें मिलीं।

इससे पहले, रुझानों में NDA ने सुबह साढ़े दस बजे ही बहुमत का आंकड़ा छू लिया था, लेकिन करीब आठ घंटे बाद यानी शाम साढ़े छह बजे के करीब तस्वीर बदल गई। NDA 134 से घटकर 120 पर आ गया। हालांकि, दो घंटे बाद ही उसने फिर 123 सीटों पर बढ़त के साथ रुझानों में बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया। 23 सीटों पर वोटों का मार्जिन दो हजार से कम था, इसलिए NDA की सीटें बहुमत से कम-ज्यादा होती रहीं।

सबसे बड़ा फायदा भाजपा को, सबसे ज्यादा नुकसान जदयू को

पार्टी सीटें (फायदा/नुकसान)
भाजपा 74 (+21)
जदयू 43 (-28)
हम 4 (+3)
VIP 4 (+4)
कुल NDA 125
राजद 75 (-5)
कांग्रेस 19 (-8)
भाकपा (माले) 12 (+9)
भाकपा 2 (+2)
माकपा 2 (+2)
कुल महागठबंधन 110
अन्य 8

नीतीश की शिकायत लिए EC तक पहुंचा राजद
शाम तक आए रुझानों में राजद NDA को बराबरी पर रोकता दिखा। उसे भाजपा के 19.4% के मुकाबले 23.1% वोट मिले। काउंटिंग के दौरान राजद और कांग्रेस के नेता नीतीश कुमार की शिकायत लेकर चुनाव आयोग भी पहुंचे। उनका आरोप था कि नीतीश काउंटिंग को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं। उधर, सभी नतीजे घोषित होने से पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के वोटरों को जीत की बधाई दे दी। बोले, ‘बिहार के हर वोटर ने साफ-साफ बता दिया कि उसकी प्राथमिकता सिर्फ और सिर्फ विकास है।’

बिहार के प्रत्येक वोटर ने साफ-साफ बता दिया कि वह आकांक्षी है और उसकी प्राथमिकता सिर्फ और सिर्फ विकास है। बिहार में 15 साल बाद भी NDA के सुशासन को फिर आशीर्वाद मिलना यह दिखाता है कि बिहार के सपने क्या हैं, बिहार की अपेक्षाएं क्या हैं।

— Narendra Modi (@narendramodi) 

रुझानों से जुड़े अपडेट्स

  • 02:30 AM: NDA को 125 और महागठबंधन को 110 सीटें।
  • 10:00 PM: NDA 123 और महागठबंधन 113 सीटों पर आगे। भाजपा 72, जदयू 43, राजद 77, कांग्रेस 17, लेफ्ट 18 सीटों पर आगे।
  • 8:00 PM: NDA 122 और महागठबंधन 114 सीटों पर आगे। भाजपा 72, जदयू 43, राजद 76, कांग्रेस 20, लेफ्ट 18 सीटों पर आगे।
  • 7:00 PM: NDA 121 और महागठबंधन 114 सीटों पर आगे। भाजपा 72, जदयू 41, राजद 76, कांग्रेस 20, लेफ्ट 18 सीटों पर आगे।
  • 6:30 PM: NDA 120 और महागठबंधन 115 सीटों पर आगे। भाजपा 73, जदयू 39, राजद 77, कांग्रेस 20, लेफ्ट 18 सीटों पर आगे।
  • 6:00 PM: NDA 123 और महागठबंधन 112 सीटों पर आगे। भाजपा 72, जदयू 43, राजद 74, कांग्रेस 20, लेफ्ट 18 सीटों पर आगे।
  • 5:00 PM: NDA 123 और महागठबंधन 111 सीटों पर आगे। भाजपा 73, जदयू 39, राजद 70, कांग्रेस 21, लेफ्ट 18 सीटों पर आगे।
  • 4:00 PM: NDA 133 और महागठबंधन 99 सीटों पर आगे। भाजपा 77, जदयू 48, राजद 63, कांग्रेस 20, लेफ्ट 16 सीटों पर आगे।
  • 3:00 PM: NDA 128 और महागठबंधन 105 सीटों पर आगे। भाजपा 73, जदयू 49, राजद 66, कांग्रेस 21, लेफ्ट 18 सीटों पर आगे।
  • 2:00 PM: NDA 134 और महागठबंधन 98। भाजपा 76, जदयू 52, राजद 61, कांग्रेस 18, लेफ्ट 19 सीटों पर आगे।
  • 1.00 PM: NDA 127 और महागठबंधन 105 सीटों पर आगे।
  • 12.30 PM: NDA 129 और महागठबंधन 103 सीटों पर बढ़त लेता दिखा।
  • 12.00 PM: NDA 129 और महागठबंधन 100 सीटों पर आ गया।
  • 11.30 AM: NDA 131 और महागठबंधन 101 सीटों पर लीड करता दिखा।
  • 11 AM: NDA 130 और महागठबंधन 97 पर आ गया।
  • 10.30 AM: NDA 125 पर पहुंच गया और महागठबंधन 109 पर आ गया।
  • 10 AM: NDA बढ़कर 119 पर था और महागठबंधन घटकर 114 पर आ गया था।
  • 9.00 AM: महागठबंधन 120 सीटों पर आगे था, NDA को 90+ सीटों पर बढ़त थी।
  • 8.30 AM: रुझानों में महागठबंधन 60+ और NDA 40+ पर था।
बड़े चेहरों से जुड़े अपडेट्स
  • बिहार के नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा मुजफ्फरपुर से चुनाव हार गए हैं। उन्हें कांग्रेस के विजेंद्र चौधरी ने हराया। मंत्री सुरेश कुमार शर्मा की हार का बड़ा कारण मुजफ्फरपुर में जलजमाव बना है। कहा जा रहा है कि मंत्री जी को पानी ले डूबा।
  • लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी राघोपुर से आगे हैं। बड़े बेटे तेज प्रताप हसनपुर सीट से जीत गए हैं।
  • मधेपुरा से उम्मीदवार पप्पू यादव तीसरे नंबर पर चल रहे हैं।
  • बिहारीगंज सीट से शरद यादव की बेटी सुभाषिनी हार गईं।
  • बांकीपुर से शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा हार गए। यहां भाजपा के नितिन नवीन जीते।
  • परसा से जदयू के चंद्रिका राय हार गए हैं। इमामगंज से हम प्रत्याशी जीतन राम मांझी जीत गए।
  • VIP के मुकेश सहनी सिमरी बख्तियारपुर सीट पर हार गए।
  • जमुई से भाजपा के टिकट पर पहली बार चुनाव लड़ रही श्रेयसी सिंह ने जीत हासिल की।
  • छातापुर सीट से सुशांत सिंह राजपूत के भाई नीरज सिंह बबलू जीत गए।

काउंटिंग से जुड़े अपडेट्स

  • महागठबंधन के नेता EC पहुंचे: कांग्रेस और राजद के नेताओं ने रात करीब 10 बजे नीतीश कुमार पर वोटिंग को प्रभावित करने का आरोप लगाया और इसके बाद इलेक्शन कमीशन के दफ्तर पहुंच गए।
  • राजद ने जीत का दावा किया: तेजस्वी यादव के घर से शाम करीब साढ़े छह बजे कार्यकर्ताओं और पोलिंग एजेंटों को काउंटिंग हॉल में बने रहने का फरमान जारी किया गया। कहा गया कि बिहार ने बदलाव कर दिया है और सरकार महागठबंधन की बनेगी।
  • 18 सीटों पर कांटे की टक्कर: शाम साढ़े पांच बजे 18 सीटों पर वोटों का मार्जिन एक हजार से कम था। इनमें से 9 पर NDA और 8 पर महागठबंधन आगे रहा। 1 सीट पर बसपा आगे थी।
  • 3 बजे तक 44% वोटों की गिनती पूरी: दोपहर 3 बजे तक 4.10 करोड़ वोटों में से 1.8 करोड़ यानी करीब 44% वोटों की गिनती पूरी हो गई। इलेक्शन कमीशन ने कहा कि आमतौर पर 25 से 26 राउंड में काउंटिंग होती है। इस बार हमें 35 राउंड तक काउंटिंग करनी होगी।
  • बिहार में 63% ज्यादा EVM का इस्तेमाल: चुनाव आयोग ने बताया कि कोविड प्रोटोकॉल के चलते इस बार बनाए गए एक्स्ट्रा पोलिंग बूथ्स पर 2015 की तुलना में 63 परसेंट ज्यादा EVM का इस्तेमाल किया गया। इस बार बिहार में 1.06 लाख ईवीएम मशीनों के वोटों की गिनती होनी है।
 

बयानों से जुड़े अपडेट्स

  • मोदी बोले- बिहार ने दुनिया को सिखाया: चुनाव नतीजों पर प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया- बिहार ने दुनिया को लोकतंत्र का पहला पाठ पढ़ाया है। आज बिहार ने दुनिया को फिर बताया है कि लोकतंत्र को मजबूत कैसे किया जाता है। बिहार के प्रत्येक वोटर ने साफ-साफ बता दिया कि वह आकांक्षी है और उसकी प्राथमिकता सिर्फ और सिर्फ विकास है। बिहार में 15 साल बाद भी NDA के सुशासन को फिर आशीर्वाद मिलना यह दिखाता है कि बिहार के सपने क्या हैं, बिहार की अपेक्षाएं क्या हैं।
  • जदयू पर आरोप, नीतीश से अपील: राजद प्रवक्ता मनोझ झा ने कहा कि जदयू वोटों की गिनती की प्रक्रिया को धीमा करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने नीतीश से अपील की कि वो जनादेश का असम्मान न करें। महागठबंधन विजेता बनकर उभरेगा।
  • पुष्पम प्रिया का EVM हैकिंग का आरोप: प्लूरल्स पार्टी की पुष्पम प्रिया चौधरी ने फेसबुक पर लिखा कि बिहार में EVM हैक हो गई। प्लूरल्स वोट चुराकर हर बूथ पर वोट NDA को ट्रांसफर हो गए। डेटा साफ है। हमें तो बहुमत नहीं था, पर NDA को भी बहुमत नहीं था। प्लूरल्स के वोटों की चोरी ने उनका काम बना दिया।
  • राजद को जीत का भरोसा: राजद सांसद मनोज झा ने मीडिया से कहा कि हम आपसे कुछ घंटे में मिलेंगे और यह साबित कर देंगे कि हमने जो कहा था, वह कर दिखाया।
  • जदयू हारेगी तो कोरोना की वजह से: शुरुआती रुझानों के बीच जनता दल यूनाइटेड के नेता केसी त्यागी ने कहा था कि एक साल पहले राजद को लोकसभा चुनाव में एक भी सीट नहीं मिली। लोकसभा चुनाव के हिसाब से तो जदयू और सहयोगी दलों को 200 से ज्यादा सीटें मिलनी थीं। एक साल में ब्रांड नीतीश को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। हम अगर हार रहे हैं तो वह सिर्फ कोरोना की वजह से।
2019 लोकसभा चुनाव में 223 विधानसभा सीटों पर आगे था एनडीए
2019 में हुए लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 में 39 सीटें एनडीए को मिली थीं। सिर्फ एक सीट पर कांग्रेस का उम्मीदवार जीता था। लोकसभा के नतीजों को अगर विधानसभा क्षेत्र के हिसाब से देखें तो एनडीए को 223 सीटों पर बढ़त मिली थी। इनमें से 96 सीटों पर भाजपा तो 92 सीटों पर जदयू आगे थी। लोजपा 35 सीटों पर आगे थी।

एक सीट जीतने वाला महागठबंधन विधानसभा के लिहाज से 17 सीटों पर आगे था। इनमें 9 सीट पर राजद, 5 पर कांग्रेस, दो पर हम (सेक्युलर) जो अब एनडीए का हिस्सा है और एक सीट पर रालोसपा को बढ़त मिली थी। अन्य दलों में दो विधानसभा क्षेत्रों में AIMIM और एक पर CPI-ML आगे थी।

2015 में साथ लड़े थे राजद और जदयू
2015 के चुनाव में राजद, जदयू और कांग्रेस ने साथ मिलकर महागठबंधन बनाया था। इस गठबंधन को 178 सीटें मिली थीं, लेकिन डेढ़ साल बाद ही नीतीश महागठबंधन से अलग होकर एनडीए में चले गए। इस चुनाव में एनडीए में भाजपा, VIP और हम (सेक्युलर) के साथ जदयू भी है। वहीं, पिछले चुनाव में एनडीए का हिस्सा रही रालोसपा और लोजपा के साथ है।