भरतपुर, भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टीम ने लीज की जमीन के सीमांकन के मामले में 2 हजार रुपए की रिश्वत लेते वन विभाग के सर्वेयर को गिरफ्तार किया है। एसीबी भरतपुर के एएसपी सरजीत सिंह ने बताया कि कुलयाना केथवाड़ा निवासी जमशेद ने शिकायत की थी कि उसकी नगर क्षेत्र में लीज है, जिसका कुछ हिस्सा कामां का पड़ता है, जो वन विभाग के अन्तर्गत है। वन विभाग से लीज का सीमांकन कराना था।

उसने डीएफओ कार्यालय में सर्वेयर मनीराम से संपर्क किया। जिसने लीज का सीमांकन करने के लिए 3 हजार रुपए की मांग की। इसका सत्यापन शुक्रवार को किया तो उस समय मनीराम ने एक हजार रुपए ले लिए, बाकी 2 हजार रुपए सीमाकंन की नाप के समय देने का तय हुआ। जब सर्वेयर मनीराम कैथवाड़ा के गांच ओलन्दा के पास लीज की जमीन के सीमांकन के लिए पहुंचा। वहां उसने परिवादी से रिश्वर के बाकी 2 हजार रुपए ले लिए। उसी समय एएसपी सरजीत सिंह एसीबी की टीम ने परिवादी का इशारा पाते ही रिश्वत की राशि के साथ मनीराम को गिरफ्तार कर लिया। सीमांकन रिपोर्ट लिखी पर्सनल डायरी भी बरामद की।