नई दिल्ली, एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक (एयू बैंक) हाउसिंग फाइनेंस सेगमेंट में दोबारा प्रवेश करने की घोषणा की है। एयू बैंक ने पहले (एयू फाइनेंसर्स के तौर पर) अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी के तहत सफलतम हाउसिंग फ्रैंचाइजी बनाई थी। बैंक ने प्रतिस्पर्धी दरों पर विभिन्न उत्पाद एवं सेवायें देने की घोषणा की है जिससे वे अपनी हाउसिंग फाइनेंस संबंधी जरूरतों को पूरा कर पाएंगे।

इसमें नए घर की खरीदारी/निर्माण, संपत्ति की मरम्मत या पुनरुद्धार आदि शामिल हैं। बैंक सरकार की किफायती हाउसिंग एवं सब्सिडी स्कीम जैसे प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ऋण देगा। यह बैंक अधिकतम एक करोड़ रुपए का आवास ऋण देगा। यह शहरी, उपनगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में वेतनभोगियों और स्वरोजगार (पेशेवर एवं गैर-पेशेवर) दोनों ग्राहकों के लिए लक्षित होंगे। वेतनभोगी ग्राहकों के लिए ऋण की अधिकतम अवधि 25 साल तक होगी जबकि अन्य ग्राहकों के लिए यह 20 साल होगी।

बैंक ने जयपुर, बीकानेर और उदयपुर में इस उत्पाद के लिए पायलट शुरू किया है। जल्द ही इस उत्पाद को चरणबद्ध तरीके में 11 राज्यों में विस्तारित किया जाएगा। बैंक के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी संजय अग्रवाल ने कहा कि इस उत्पाद और ग्राहक सेगमेंट में उनका पुराना अनुभव है। स्मॉल फाइनेंस बैंक बनने के बाद इस पेशकश की घोषणा करना एयू बैंक के लिए सिर्फ समय की बात है। उनके पोर्टफोलियो में हाउसिंग फाइनेंस उत्पादों को दोबारा पेश करने की रणनीति उत्पाद पेशकश की श्रृंखला को पूरा करना था। बैंक में छह लाख से अधिक खाता हैं और इसकी 306 शाखाएं और 106 केन्द्र हैं।