दुबई. भारत ने शुक्रवार को सातवीं बार एशिया कप जीता। उसने लगातार दूसरी बार यह खिताब जीता है। टीम इंडिया ने फाइनल में बांग्लादेश को तीन विकेट से हराया। भारत की ओर से रोहित शर्मा ने सबसे ज्यादा 48 रन बनाए। रविंद्र जडेजा ने 23 और भुवनेश्वर कुमार 21 रन की भी अहम पारी खेली। केदार जाधव हैमस्ट्रिंग की परेशानी के बावजूद दोबारा क्रीज पर लौटे। वे 23 रन और कुलदीप यादव पांच रन बनाकर नाबाद लौटे। मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड बांग्लादेश के लिटन दास और मैन ऑफ द टूर्नामेंट अवॉर्ड भारत के शिखर धवन को मिला।

इससे पहले भारत ने टॉस जीता और गेंदबाजी का फैसला किया। बांग्लादेश की शुरुआत अच्छी रही। टीम का पहला विकेट 120 रन पर गिरा, लेकिन बांग्लादेश बड़ा स्कोर खड़ा करने में असफल रहा। टीम 48.3 ओवर में 222 रन पर ऑलआउट हो गई। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 50 ओवर में 223 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया।

 

भारत को आखिरी 12 गेंद पर 9 रन बनाने थे

गेंद रन क्या हुआ
48.1 0 मुस्तफिजुर रहमान ने गेंद फेंकी, भुवनेश्वर कुमार विकेटकीपर रहीम को कैच दे बैठे
48.2 1 कुलदीप यादव ने एक रन लिया
48.3 0 केदार जाधव रन नहीं बना सके
48.4 0 केदार जाधव रन नहीं बना सके
48.5 0 केदार जाधव रन नहीं बना सके
48.6 2 केदार जाधव ने दो रन लिया
49.1 0 महमूदुल्लाह गेंदबाजी के लिए आए, पहली गेंद पर कुलदीप ने एक रन लिया
49.2 1 केदार जाधव ने एक रन लिया
49.3 2 कुलदीप यादव ने दो रन लिया
49.4 0 कुलदीप यादव रन नहीं बना सके
49.5 1 कुलदीप यादव ने एक रन लिया
49.6 1 केदार के पैड पर गेंद लगी, लेग बाई में एक रन मिला

 

एशिया कप फाइनल में भारत का प्रदर्शन

साल टीम के कप्तान किसके खिलाफ विजेता
2018 रोहित शर्मा बांग्लादेश भारत
2016 (टी-20) महेंद्र सिंह धोनी  बांग्लादेश भारत
2010 महेंद्र सिंह धोनी  श्रीलंका भारत
2008 महेंद्र सिंह धोनी  श्रीलंका श्रीलंका
2004 सौरव गांगुली श्रीलंका श्रीलंका
1997 सचिन तेंडुलकर श्रीलंका श्रीलंका
1995 मोहम्मद अजहरुद्दीन श्रीलंका भारत
1991 मोहम्मद अजहरुद्दीन श्रीलंका भारत
1988 दिलीप वेंगसरकर श्रीलंका भारत
1984 सुनील गावस्कर श्रीलंका भारत

 

बांग्लादेश लगातार पांचवां फाइनल हारा

साल किसके खिलाफ टूर्नामेंट
2018 भारत एशिया कप
2018 भारत निदाहास ट्रॉफी
2018 श्रीलंका त्रिकोणीय सीरीज
2016 भारत एशिया कप (टी-20)
2012 पाकिस्तान एशिया कप

 

लिटन के करियर का पहला शतक:  लिटन दास और मेहदी हसन ने पहले विकेट के लिए 120 रन जोड़कर टीम को मजबूत शुरुआत दी। इससे पहले टूर्नामेंट में बांग्लादेश की ओपनिंग जोड़ी 16 रन से ज्यादा की साझेदारी नहीं कर पाई थी। मेहदी को 32 के निजी स्कोर पर केदार जाधव ने आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। लिटन ने करियर का पहला शतक लगाया। उन्हें कुलदीप यादव ने 121 के निजी स्कोर पर आउट किया।

 

एशिया कप के फाइनल में शतक लगाने वाले खिलाड़ी

साल खिलाड़ी देश किसके खिलाफ रन
2008 सनथ जयसूर्या श्रीलंका भारत 125
2018 लिटन दास बांग्लादेश भारत 121
2014 फवाद आलम पाकिस्तान श्रीलंका 114*
2014 लहिरू थिरिमाने श्रीलंका पाकिस्तान 101
2000 मर्वन अटापट्टू श्रीलंका पाकिस्तान 100

 

धोनी-कार्तिक ने की अर्धशतकीय साझेदारी: 83 के स्कोर पर रोहित के आउट होने के बाद पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मैदान पर आए। उन्होंने दिनेश कार्तिक के साथ चौथे विकेट के लिए 54 रन की साझेदारी की। कार्तिक 37 रन बनाकर महमूदुल्लाह की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हुए। धोनी 36 रन मुस्तफिजुर का शिकार बने।

 

हैमस्ट्रिंग के चलते जाधव ड्रेसिंग रूम में लौटे ः  38वां ओवर खत्म होने के बाद भारत को एक और झटका तब लगा, जब हैमस्ट्रिंग की समस्या के कारण केदार जाधव को मैदान पर छोड़ना पड़ा। वनडे में बल्लेबाज को कोई रनर नहीं मिलता है। उनकी जगह भुवनेश्वर कुमार खेलने आए।

 

धोनी के विकेट के पीछे 800 शिकार पूरे: धोनी ने विकेट के पीछे 800 शिकार पूरे कर लिए। यह उपलब्धि हासिल करने वाले वे भारत के पहले और दुनिया के तीसरे विकेटकीपर हैं। टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके धोनी ने टेस्ट में 90 मैचों में 256 कैच और 38 स्टम्पिंग, 327 वनडे में 306 कैच और 113 स्टम्पिंग तथा 93 टी-20 में 54 कैच और 33 स्टम्पिंग की हैं। दक्षिण अफ्रीका के मार्क बाउचर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में विकेट के पीछे 998 और ऑस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट ने 905 शिकार किए हैं।

 

भारतीय के खिलाफ सबसे बड़ी ओपनिंग साझेदारी: बांग्लादेश के ओपनर्स ने दो साल बाद शतकीय साझेदारी की। वहीं, भारत के खिलाफ यह दूसरी और सबसे बड़ी शतकीय साझेदारी है। 2015 में तमीम इकबाल और सौम्य सरकार ने 102 रन जोड़े थे।

 

मेहदी ने की बल्लेबाजी और गेंदबाजी की शुरुआत: मेहदी हसन एशिया कप के किसी एक ही मैच में बल्ले और गेंद से शुरुआत करने वाले पांचवें खिलाड़ी बने। उनसे पहले श्रीलंका के रवि रत्नायके, भारत के मनोज प्रभाकर, यूएई असीम सईद और पाकिस्तान के मोहम्मद हफीज यह रिकॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं।

 

भारत: स्कोरबोर्ड

बल्लेबाज रन गेंद 4s 6s
रोहित शर्मा कै. नजमुल बो. रूबेल 48 55 3 3
शिखर धवन कै. सौम्या बो. नजमुल 15 14 3 0
अंबाती रायुडू कै. रहीम बो. मुर्तजा 2 7 0 0
दिनेश कार्तिक एलबीडबल्यू बो. महमूदुल्लाह 37 61 1 1
महेंद्र सिंह धोनी कै. रहीम बो. मुस्तफिजुर 36 67 3 0
केदार जाधव नॉट आउट 23 27 1 1
रविंद्र जडेजा कै. रहीम बो. रूबेल 23 33 1 0
भुवनेश्वर कुमार कै. रहीम बो. मुस्तफिजुर 21 31 1 1
कुलदीप यादव नॉट आउट 5 5 0 0

रन: 223/7, ओवर: 50, एक्स्ट्रा: 13.

विकेट पतन: 35/1, 46/2, 83/3, 137/4, 160/5, 212/6, 214/7.

गेंदबाजी: मेहदी हसन: 4-0-27-0, मुस्तफिजुर रहमान: 10-0-38-2, नजमुल इस्लाम: 10-0-56-1, मशरफे मुर्तजा: 10-0-35-1, रूबेल हुसैन: 10-2-26-2, महमूदुल्लाह: 6-0-33-1.


बांग्लादेश: स्कोरबोर्ड

बल्लेबाज रन गेंद 4s 6s
लिटन दास स्टंप धोनी बो. कुलदीप 121 117 12 2
मेहदी हसन कै. रायुडू बो. केदार 32 59 3 0
इमरूल कायेस एलबीडबल्यू बो. चहल 2 12 0 0
मुशफिकुर रहीम कै. बुमराह बो. केदार 5 9 1 0
मोहम्मद मिथुन रन (जडेजा/चहल) 2 4 0 0
महमूदुल्लाह कै. बुमराह बो. कुलदीप 4 16 0 0
सौम्य सरकार रन आउट(रायुडू/धोनी) 33 45 1 1
मशरफे मुर्तजा स्टंप धोनी कै कुलदीप 7 9 0 1
नजमुल इस्लाम रन आउट ((सब.) मनीष) 7 13 0 0
मुस्तफिजुर रहमान नॉट आउट 2 5 0 0
रूबेल हुसैन बो. बुमराह 0 2 0 0

रन: 222/10, ओवर: 48.3, एक्स्ट्रा: 7.

विकेट पतन: 120/1, 128/2, 137/3, 139/4, 151/5, 188/6, 196/7, 213/8, 222/9, 222/10.

गेंदबाजी: भुवनेश्वर कुमार: 7-0-33-0, जसप्रीत बुमराह: 8.3-0-39-1, युजवेंद्र चहल: 8-1-31-1, कुलदीप यादव: 10-0-45-3, रविंद्र जडेजा: 6-0-31-0, केदार जाधव: 9-0-41-2.