नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के अखिल भारतीय प्रचारकों की बैठक 15 से 17 जुलाई तक गुजरात के सोमनाथ में आयोजित की जा रही है। इसमें संघ शिक्षा वर्ग से जुड़े विषयों, संगठन से जुड़े दायित्वों, उपलब्धियों और कुछ समसामयिक विषयों पर चर्चा हो सकती है। आरएसएस के एक वरिष्ठ प्रचारक ने बताया कि यह संघ के प्रांत प्रचारकों की अखिल भारतीय बैठक है, जिसमें पूर्णकालिक प्रचारक ही हिस्सा लेते हैं। इस सम्मेलन का आयोजन हर साल अलग-अलग क्षेत्रों में किया जाता है। इस बार यह आयोजन गुजरात के सोमनाथ में हो रहा है।

आएंगे सभी पदाधिकारी
इसमें सरसंघचालक डॉ मोहनराव भागवत, सरकार्यवाह भैय्याजी जोशी, सभी सहसर कार्यवाह, राष्ट्रीय कार्यकारणी के सदस्यों के साथ प्रांत प्रचारक और वरिष्ठ पदाधिकारी हिस्सा ले रहे हैं।सरसंघचालक डॉ. भागवत का 12 जुलाई को सोमनाथ पहुंचने का कार्यक्रम है। वे इस बैठक में स्थानीय कार्यकर्ताओं, स्वयंसेवकों और स्थानीय नागरिकों से मिलेंगे।

लोकसभा चुनाव से लेना-देना नहीं
यह पूछे जाने पर कि इस बैठक के मुख्य विषय क्या है, संघ प्रचारक ने बताया कि यह एक नियमित बैठक है और हर वर्ष इसी समय इसका आयोजन किया जाता है। उन्होंने कहा कि अभी संघ शिक्षा वर्ग का समापन हुआ है और इस बैठक में संघ शिक्षा वर्ग की उपलब्धियों पर विचार किया जाएगा। इसके अलावा संघ के प्रचारकों को दिए गए कार्यों और इस अवधि में उनकी उपलब्धियों पर भी विचार किया जा सकता है। उन्होंने जोर दिया कि इस बैठक का साल 2019 के लोकसभा चुनाव से कोई लेना देना नहीं है। सूत्रों ने बताया कि बैठक में भैय्याजी जोशी ‘सामाजिक सद्भाव’ के विषय पर बैठक को संबोधित कर सकते हैं।