विश्‍व हिंदू परिषद से प्रवीण तोगड़िया को बाहर का रास्‍ता दिखाए जाने के साथ ही अब उन्‍होंने केंद्र सरकार पर हमला तेज कर दिया है. चुनाव परिणाम आने के बाद तोगड़िया ने मीडिया से बात की. इस दौरान उन्‍होंंने कहा कि वह हिंदू, किसान, युवा, महिला और मजदूरों की मांगों को लेकर  17 अप्रैल से अहमदाबाद में अनिश्‍चितकालीन धरने पर बैठेंगे और हिंदुओं के लिए जैसे अभी तक काम करते रहे हैं वैसे ही आगे भी काम करते रहेंगे.

इस दौरान प्रवीण तोगड़िया ने नए अंतरराष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष विष्‍णु सदाशिव कोकजे को अपने 32 साल की सेवा की बधाई दी. उन्‍होंने केंद सरकार पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि सत्‍ता के मदमस्‍तों ने सत्‍य और धर्म को दबाया है. उन्‍होंने कहा कि लाखों कार्यकर्ता गुस्‍से में मुझे लगातार फोन कर रहे हैं. उन्‍होंने इस दौरान पूछा कि मेरा गुनाह क्‍या था, बस यही कि मैंने 100 करोड़ हिंदूओं की आवाज बुलंद की, जिसकी सजा आज हमें दी गई.

मीडिया से बात करते हुए उन्‍होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि जैसे वो अभी तक उनके साथ कदम से कदम मिलाकर चलते रहे हैं वैसे ही अभी भी उनका साथ दें. उन्‍होंने कहा कि आप लोग देखिएगा हम ही संसद में कानून बनाकर राम मंदिर बनवाएंगे. इसी के साथ गौ हत्‍या बंदी कानून, कश्‍मीर के हिंदुओं को कश्‍मीर में बसवाएंगे और किसानों को सी-2 मुआवजा भी दिलाया जाएगा. उन्‍होंने किसानों को फसल का मुआवजा अब चुनावी जुलमा बनकर नहीं रह जाएगा बल्‍कि केंद्र सरकार को किसानों को उनका पूरा हक देना होगा.