नई दिल्ली:स्वतंत्रता दिवस (Independence Day Celebration) पर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ऐतिहासिक लाल किले (Red Fort) से देश को संबोधित करेंगे. इस मौके पर लाल किले पर कड़े सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के मुताबिक यहां कई स्तर की सुरक्षा होगी. जिसमें एनएसजी, एसपीजी और आईटीबीपी जैसी दूसरी एजेंसियों की भी मदद ली गई है. पुलिस ने बताया कि सुरक्षा के लिए 300 से ज्यादा कैमरे लगाए गए हैं और उनकी फुटेज पर नजर रखी जा रही है. इसके अलावा लालकिले में लगभग 4,000 सुरक्षाकर्मी होंगे और वे सोशल डिस्टेंसिंग के मानदंडों का पालन करेंगे.

आसपास भी कड़ी सुरक्षा
रेलवे स्टेशनों और उनके आसपास की सुरक्षा भी कड़ी कर दी गई है. बता दें कि लाल किले के पास ही पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन है. रेलवे के पुलिस उपायुक्त हरेंद्र कुमार सिंह ने कहा, ‘रेलवे स्टेशनों और पटरियों के किनारे सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है. स्वतंत्रता दिवस के दिन वीवीआईपी लोगों की आवाजाही के कारण लालकिले के पास पटरियों पर सुबह 6.45 बजे से सुबह 8.45 बजे तक ट्रेनों की आवाजाही नहीं होगी.’

फुल-ड्रेस रिहर्सल
गुरुवार की सुबह को लाल किला में स्वतंत्रता दिवस समारोह की फुल-ड्रेस रिहर्सल की गई. थल सेना, नौसेना और वायु सेना के जवानों ने लालकिला में अभ्यास किया.रिहर्सल के दौरान सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई थी. यातायात पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. लाल किले को स्वतंत्रता दिवस समारोह से पहले ही जनता के लिए बंद कर दिया गया है. इस बीच, राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा कड़ी करते हुए दिल्ली पुलिस ने जांच अभियान तेज कर दिया है.

कोरोना को लेकर सावधानी
दिल्ली पुलिस ने यहां लाल किले पर आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह के लिए आमंत्रित लोगों को सलाह दी है कि उन्हें अगर कार्यक्रम से पहले दो सप्ताह में कोविड-19 का कोई लक्षण महसूस हुआ है, तो वे कार्यक्रम में हिस्सा लेने से परहेज करें. साथ ही पुलिस ने आमंत्रित लोगों से ये भी अनुरोध किया कि वे गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी कोविड-19 से संबंधित दिशानिर्देशों का लाल किले पर स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान पालन करें.