नई दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रक्षा क्षेत्र में भारत और फ्रांस के सहयोग को स्वर्णिम कदम बताते हुए आज कहा कि अभी भारत को फ्रांस के सबसे विश्वस्त रक्षा भागीदारों में गिना जाता है। मोदी ने भारत की चार दिन की यात्रा पर आये फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के साथ यहां शिष्टमंडल स्तर की वार्ता के बाद अपने वक्तव्य में कहा कि दोनों देशों की सेनाओं के बीच साजो सामान सहयोग समझौते को वह इतिहास के स्वर्णिम कदम के रूप में देखते हैं।

रक्षा, सुरक्षा, अंतरिक्ष और उच्च प्रौद्योगिकी में भारत और फ्रांस के द्विपक्षीय सहयोग का इतिहास बहुत लम्बा है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों ने आज शिक्षा और आव्रजन के क्षेत्र में भी समझौता किया है। उन्होंने कहा कि ये दोनों समझौते हमारे देशवासियों के, हमारे युवाओं के बीच करीबी संबंधों की रूपरेखा तैयार करेंगे।